Sunday, November 28, 2021

अहमदनगर Civil hospital में 10 करोना मरीजो कि आग लगने से मृत्यु 6 मरीज झुलसे, जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई

- Advertisment -

Maharashtra/Ahmednagar Civil hospital Fire 2021 – महाराष्ट्र के अहमदनगर के सिविल हस्पताल से एक बहुत ही दुखद समाचार प्राप्त हुआ है. खबरों के मुताबिक महाराष्ट्र के अहमदनगर के सिविल अस्पताल में आग लगने के कारण से 10 करोना मरीजों की मृत्यु हो गई है, और 6 लोग इस अग्निकांड में झुलस गए हैं. अहमदनगर के कलेक्टर राजेंद्र भोसले ने इस सारी घटना की पुष्टि की है. वही आपको बता दें कि इस घटना के बाद सभी घायल मरीजों का इलाज किया जा रहा है. 

क्यों और कैसे लगी सिविल हस्पताल में आग?

- Advertisement -

आग लगने की घटना बहुत ही ज्यादा भयानक थी. पूरे हॉस्पिटल में धुआं ही धुआं दिखाई दे रहा था. धुएं के गुबार में व्यक्ति भागते हुए दिखाई दे रहे थे. आग लगने के बाद हॉस्पिटल में अचानक से चीख पुकार मच गई. जो मरीज कुछ नहीं कर सकते थे,वे चिल्ला रहे थे और वही जब आग कोरोना वार्ड में पहुंची तो वहां का दृश्य बहुत ही डराने वाला था.

क्योंकि कई मरीज बहुत ज्यादा बेबस थे, इसलिए भाग नहीं पाए और इसी सब के कारण करीबन 10 करोना मरीजों की मृत्यु हो गई और 6 मरीज झुलस गए इस सारे अग्निकांड में.

Read Also उड़ने वाली Car छोड़िए यहाँ ख़रीदिये उड़ने वाली मोटर साइकिल Price 5.06 करोड़ रुपए, 26 अक्टूबर से बुकिंग शुरू है

आग कितनी बड़ी और कितनी खतरनाक थी?

जब फायर ब्रिगेड आई और उसने आग बुझा दी तो उसके बाद पता चला कि आप इतनी ज्यादा खतरनाक थी. आग लगने के कारण हॉस्पिटल के बेड (Beds), दवाइयां और अन्य मेडिकल समान तक जल चुके थे. सारी की सारी दीवारें काली पड़ गई थी, और अब तक की मिली जानकारी के अनुसार यह आग एसी में शॉर्ट सर्किट (Short circuit in Ac) होने के कारण लगी है.

- Advertisement -

वही आज तक (Aaj tak) की न्यूज़ के अनुसार 25 लोग करोना वार्ड में भर्ती हुए थे. इनमें से 10 लोगों की मृत्यु हो गई है और 6 लोग जल गए हैं.

क्या होगा मुआवजे का ऐलान?

महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मलिक ने कहा है कि अगर अस्पताल का ऑडिट कराने के बाद यह पता चलता है कि आग किन कारणों से लगी है, या आग लगने का दोषी किसे पाया जाता है, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.  और जिन लोगों की मृत्यु हुई है, उनके परिवार के लिए मुआवजे का ऐलान भी किया जाएगा.

क्या हस्पताल का फायर ऑडिट हुआ था?

महाराष्ट्र सरकार के जो मंत्री (नवाब मलिक) है उन्होंने कहा है कि हॉस्पिटल के नए आईसीयू वार्ड में आग लगी हुई थी. इस आईसीयू वार्ड  (ICU Ward, civil hospital Ahmednagar/Maharashtra) में जो भी मरीज थे उनमें से 10 मरीजों की मृत्यु हो गई है.

- Advertisement -

उन्होंने कहा कि उन्होंने हॉस्पिटल वालों को आदेश दे दिया था कि मैं अपने आप फायर सेफ्टी ऑडिट कराएं. अब यह जांच की जाएगी की अस्पताल वालों ने फायर सेफ्टी ऑडिट करवाया था या नहीं, और अगर हॉस्पिटल वालों ने फायर सेफ्टी ऑडिट नहीं करवाया होगा तो यह घटना बहुत ही ज्यादा गंभीर है.

देवेंद्र फडणवीस ने क्या कहा?

वही नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि जिन लोगों ने सिविल हॉस्पिटल में अपनी जान गवाई है, मैं उनके प्रति अपना दुख व्यक्त करता हूं मेरी संवेदनाएं हैं, और मैं महाराष्ट्र सरकार से इस सारे अग्निकांड की जांच की भी मांग करता हूं.